देश

रेत माफिया अकेले करोड़ों रुपये का अवैध व्यापार कर रहा है। पंजाब में 20000 करोड़: अरविंद केजरीवाल

रेत माफिया अकेले करोड़ों रुपये का अवैध व्यापार कर रहा है। पंजाब में 20000 करोड़: अरविंद केजरीवाल

आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने पंजाब में कांग्रेस सरकार द्वारा माफिया शासन को संरक्षण देने की आलोचना करते हुए कहा कि अकेले पंजाब में रेत माफिया 20,000 करोड़ रुपये से अधिक का अवैध कारोबार करता है।

अरविंद केजरीवाल (फोटो क्रेडिट: आप डिजिटल)

नई दिल्ली :

आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने पंजाब में कांग्रेस सरकार द्वारा माफिया शासन को संरक्षण देने पर निशाना साधते हुए कहा कि अकेले पंजाब में रेत माफिया 20,000 करोड़ रुपये से अधिक का अवैध कारोबार करते हैं। सत्तारूढ़ कांग्रेस के विधायकों, उनके मंत्रियों और उनके करीबी सहयोगियों, जिनमें स्वयं मुख्यमंत्री भी शामिल हैं, के सीधे तौर पर शामिल होने के गंभीर आरोप हैं। आप सुप्रीमो केजरीवाल मंगलवार सुबह श्री गुरु रामदास जी अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डा अमृतसर पहुंचने पर मीडियाकर्मियों के सवालों का जवाब दे रहे थे, जो करतारपुर (जालंधर) और होशियारपुर में पार्टी के कार्यक्रमों में भाग लेने के लिए पंजाब के एक दिवसीय दौरे पर थे।

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि जब रेत माफिया और कई अन्य अवैध गतिविधियों (माफिया) में मुख्यमंत्री सहित कांग्रेस विधायकों और मंत्रियों के शामिल होने के आरोप लगाए जा रहे हैं, तो आम जनता के हितों की रक्षा कौन करेगा? पंजाब का हित कौन बचाएगा? न्याय के लिए आम जनता किसके पास जाएगी? क्या ऐसे माफिया और माफिया राज्य के संरक्षकों से पंजाब और पंजाब के लोगों के कल्याण की उम्मीद की जा सकती है? केजरीवाल ने यह भी पूछा कि ऐसे राज्य में माफिया कैसे रुकेंगे, जहां खुद मुख्यमंत्री पर रेत और बजरी माफिया के आरोप लगते रहे हैं।

इसे भी पढ़ें: जम्मू और कश्मीर में 2 अलग-अलग आतंकवाद विरोधी अभियानों में 4 आतंकवादी मारे गए

केजरीवाल ने कहा कि पहले बादल और भाजपा ने अपने शासनकाल में हर तरह के माफिया को संरक्षण देकर पंजाब को लूटा था। 2017 में लोगों ने कांग्रेस और कैप्टन द्वारा किए गए वादों पर भरोसा जताया, लेकिन वे भी बादल के नक्शे कदम पर चले और साढ़े पांच साल में पंजाब और पंजाबियों की उम्मीदें चकनाचूर हो गईं। केजरीवाल ने कहा कि एक अनुमान के मुताबिक पंजाब में अकेले बालू और बजरी खनन का 20 हजार करोड़ रुपये सालाना का अवैध कारोबार चल रहा है।

इस पैसे का उपयोग लोगों के कल्याण के लिए किया जा सकता है, लेकिन यह सरकारी खजाने के बजाय नेताओं की जेब में जा रहा है। केजरीवाल ने वादा किया कि 2022 में आम आदमी पार्टी की सरकार बनने के साथ ही अवैध रेत खनन समेत सभी तरह के माफियाओं को बंद कर दिया जाएगा। माफिया शासन के कारण राज्य के संसाधनों से राजनीतिक नेताओं की जेब में जा रहा पैसा माताओं, बहनों और बुजुर्गों की जरूरतमंदों की जेब में जाएगा।

Source link

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button