देशउत्तर प्रदेशछत्तीसगढ़राजनीतिराज्य

छत्तीसगढ़ 2021| पादरी पर जबरन धर्मांतरण का आरोप लगाकर , थाने में लात और जूतों से कूटा

छत्तीसगढ़ 2021| पादरी पर जबरन धर्मांतरण का आरोप लगाकर , थाने में लात और जूतों से कूटा

छत्तीसगढ़ 2021| पादरी पर जबरन धर्मांतरण का आरोप लगाकर , थाने में लात और जूतों से कूटा

छत्तीसगढ : रायपुर में धर्मांतरण का बढ़ा मामला सामने आया है, जहाँ रविवार 5 सितंबर को कुछ लोगों ने एक पादरी की कुटाई कर दी. चौकाने वाली बात है कि घटना पुरानी बस्ती स्थित एक पुलिस स्टेशन के भीतर हुई. लोगों ने एक पादरी पर धर्मांतरण का आरोप लगाते हुए हंगामा किया और इंस्पेक्टर के कमरे में बैठे पादरी की जूतों से भी कर डाली.  हमारे सूत्रों के मुताबिक, हंगामा करने वालों में बजरंग दल के लोग शामिल थे. इस घटना के बाद FIR दर्ज कर पुलिस इंस्पेक्टर को लाइन हाजिर कर दिया गया है.

भारत टाइम्स पर ये भी पढ़ें- – बैंक हॉलिडे 2021: सितंबर में बैंक 12 दिन रहेंगे बंद | पूरी सूची पढ़ें यहाँ

पूरा मामला?

मामला रायपुर, भाटागांव का है. कुछ लोग पादरी हरीश साहू पर धर्मांतरण का आरोप लगाते हुए थाने पहुंचे. थाने का घेराव कर नारेबाजी शुरू की. शिकायत पर पुलिस ने छत्तीसगढ़ क्रिश्चियन फोरम के महासचिव अंकुश बरियेकर और एक अन्य व्यक्ति प्रकाश मसीह को थाने बुलाया. शिकायत करने वालों ने जब ईसाई समुदाय के लोगों को पुलिस थाने में देखा तो भड़के. इसके बाद दोनों समुदाय के लोगों में विवाद हो गया. पुलिस पादरी को इंस्पेक्टर के कमरे में ले गई, जहाँ संगठन के नेताओं ने पहुंचकर पादरी की कुटाई कर दी. पुलिस ने किसी तरह भीड़ को वहां से बाहर निकाला. घटना का वीडियो वायरल.

भारत टाइम्स पर ये भी पढ़ें- इंडियन रेलवे मैगजीन 2021: अगस्त अंक के कवर पेज पर नैनी पुल की फोटो प्रकाशित की गई

U.P. | पादरी पर जबरन धर्मांतरण का आरोप लगाकर ,  थाने में लात और जूतों से कूटा

पुलिस का बयान

फ़िलहाल घटना के बाद पुरानी बस्ती थाने के प्रभारी यदुमणि सिदर को वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय यादव ने लाइन हाजिर किया है. बरियेकर ने इस घटना को लेकर FIR दर्ज कराई. साथ ही रायपुर के एडिशनल एसपी तारकेश्वर पटेल ने खुलासा किया कि धर्मांतरण मामले में 7  के खिलाफ नामजद और कुछ अन्य के खिलाफ एफआईआर दर्ज है. आरोपियों के खिलाफ धारा-147 (दंगा करना), 294 (अश्लील कार्य), 323 (जानबूझकर चोट पहुंचाना) और धारा -506 (आपराधिक धमकी) के तहत मामला दर्ज है.

भारत टाइम्स पर ये भी पढ़ें- RBI Policy 2021 | डबल KYC की कोई आवश्यकता नहीं | रिजर्व बैंक ने एग्रीगेटर सेवा की अनुमति दी

ये भी पढ़ें-  भारतीय रिजर्व बैंक की अन्य पॉलिसीज़ के बारे में यहाँ जानें

U.P. | पादरी पर जबरन धर्मांतरण का आरोप लगाकर ,  थाने में लात और जूतों से कूटा

यही नहीं इस घटना से एक हफ्ते पहले भी राज्य 25 वर्षीय पादरी कवलसिंह परास्ते के कबीरधाम जिले में पोल्मी गांव स्थित घर पर करीब 100 लोगों की भीड़ पहुंच कर उन पर धर्मांतरण में शामिल होने का आरोप लगाते हुए हंगामा किया था.

ये भी पढ़ें- उत्तर प्रदेश लेखपाल जीके व अन्य कम्पटीशन की किताबें यहाँ से खरीदें 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button